WELCOME TO THE OFFICIAL WEBSITE OF PRAKASH MALI.

EVENTS

HOME

बालोतरा में मेरे पिताजी के साथ में हम तीन भाई है मैं सबसे बड़ा हूं दो मेरे से छोटे भाई हैं जो जोधपुर में रहते हैं बाड़मेर के पास छोटा सा गांव है शिवकर वहां से मेरे पिताजी 33 साल पहले बालोतरा आ गए थे I 12वीं की उसके बाद मैं कॉलेज गया मेरा B A आधा अधूरा है I मुझे संगीत का बहुत शौक था तो मैं संगीत के कारण कॉलेज जा ही नहीं पाता था फर्स्ट ईयर मैंने किया और सेकंड ईयर जब हुआ तो मैं इसमें लग गया और कुछ समय मैं कॉलेज नहीं गया फिर पढ़ाई छूट गई I राजस्थानी संगीत का कुंभ का जाए लाखोटिया मंदिर है वहां पर हर कोई सिंगर पहुंचना चाहता है I चौथी बार जब मैं वहां गया तो मुझे प्रथम पुरस्कार मिला…..Read more